You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

Share your Ideas and Suggestions for Nasha Mukt Jammu and Kashmir

Start Date: 11-09-2023
End Date: 12-10-2023

The administration of Jammu and Kashmir has taken a strong stance against drug dealers and traffickers within the UT, implementing a strict zero-tolerance policy. They have ...

विवरण देखें जानकारी छिपाएँ

The administration of Jammu and Kashmir has taken a strong stance against drug dealers and traffickers within the UT, implementing a strict zero-tolerance policy. They have initiated a campaign known as "Nasha Mukt Abhiyaan" to combat the issue of drug abuse. It is incumbent upon society to come together and participate in this battle against the drug menace.
Under this initiative, the government of J&K has launched a campaign aimed at creating drug-free communities, including cities and villages. The primary goal is to raise awareness among the youth and PRIs within the UT, urging them to distance themselves from this harmful problem. Through a concerted and proactive approach, representatives from all segments of society will collaborate closely with the administration to ensure that villages and neighborhoods remain free from the scourge of drugs.
In this context, MyGov J&K cordially invites everyone to share their innovative ideas and valuable suggestions to contribute to realizing a drug-free Jammu and Kashmir.

Last date of submission is 12 Oct 2023

सभी टिप्पणियां देखें
Reset
75 परिणाम मिला
1970

Ritesh Yadav 10 hours 42 min पहले

यदि आप सरकारी योजनाओं की जानकारी हिंदी भाषा में प्राप्त करना चाहते हैं तो आप https://digivill.in/ , https://www.apnakhata.info/ , https://www.mpbhulekh.co/ , https://anyror.in/ , https://www.upbhulekh.com/ , https://epfologin.com/ , https://nregajobcardlists.com/ , https://pmawasgraminlist.com/ , https://www.pmkisanstatus.com/ पर विजिट कर सकते हैं.

2918010

BrahmDevYadav 4 days 19 hours पहले

नशा मुक्त समाज के लिए हम क्या कर सकते हैं?
नशामुक्ति के उपाय:- नशे को देश से मुक्त बनाने के लिए हर व्यक्ति को अपने स्तर पर प्रयास करना चाहिए और इससे होने वाली हानियों के विषय में जानकर खुद को इससे दुर रखना चाहिए। सरकार ने भी नशे पर प्रतिबंध लगाया है और यदि कोई भी व्यक्ति नशा करता या नशीले पदार्थ बेचता हुआ पाया जाता है तो उसे सजा दी जाती है।

2918010

BrahmDevYadav 4 days 19 hours पहले

नशा मुक्ति क्यों जरूरी है?
इसका उद्देश्य लोगों को नशे की बुरी आदत से छुटकारा दिलाना तथा उन्हें नशे से होने वाले दुष्प्रभाव से बचाना है। यह एक कटु सत्य है कि नशीले पदार्थों के सेवन से पीड़ित व्यक्ति को पारिवारिक एवं सामाजिक अलगाव और लोगों की उपेक्षा का सामना करना पड़ता है। इससे निश्चित रूप से उन्हें मानसिक और शारीरिक कष्ट एवं आघात पहुंचता है।

2918010

BrahmDevYadav 4 days 19 hours पहले

सबसे ज्यादा नशीली दवा कौन सी है?
सबसे अधिक पेन किलर प्रॉक्सीवान बिक रही है। क्योंकि कहने को तो यह दर्दनाशक दवा है, लेकिन नशे के लिए इसकी दो टेबलेट काफी है। केमिस्ट बताते हैं कि अंग्रेजी शराब का एक क्वॉर्टर जहां 85 से 100 रुपये का बैठता है, वहीं इन दवाओं से काफी सस्ते में नशा सिर चढ़कर बोलता है।

2918010

BrahmDevYadav 4 days 19 hours पहले

नशा मुक्ति केंद्र खोलने के लिए क्या करना है?
जहां नशा मुक्ति केंद्र के लिए सरकार से मान्यता लेनी पड़ती है। अन्य प्रदेशों में कोई भी नशा मुक्ति केंद्र खोल सकता है। कहां इलाज हो रहा सरकार की नाॅलेज में जरूरी है| अगर किसी नशा मुक्ति केंद्र या फिर सरकारी अस्पताल में किसी नशा करने वाले बच्चा का इलाज किया जाना है तो उससे पहले सरकार की नालेज में लाना जरूरी है।

2918010

BrahmDevYadav 4 days 19 hours पहले

नशा मुक्ति केंद्र में इलाज कैसे होता है?
मनोवैज्ञानिक चिकित्सा:-
इससे नशे का दिमाग पर कैसा असर पड़ा है यह जानने की कोशिश की जाती है। उसकी कैस हिस्ट्री क्या है और उसके क्या ट्रिगर प्वाइंट हैं जिससे वह नशा करता है, यह सब जानने के बाद उनकी थैरिपी को आगे बढ़ाया जाता है। इसमें योग, ध्यान के साथ ही Behavioral Therapy को बी आजमाया जाता है।

2918010

BrahmDevYadav 4 days 19 hours पहले

कौन सी दवा नशा करती है?
एलप्रेक्स ट्राइका, एटीवान, लोराजीपाम, रिवोट्रील क्लोनाजीपाम ऐसी दवाएं हैं, जिनका उपयोग नशे के लिए किया जाने लगा है। इन दवाओं को ज्यादातर नींद न आना, दर्द और तनाव को दूर करने वाले मरीज को दिया जाता है।

2918010

BrahmDevYadav 4 days 19 hours पहले

How many days was the Nasha Mukt Bharat summit held for?
This year, to commemorate the International Day Against Drug Abuse and Illicit Trafficking, the Ministry of Social Justice & Empowerment organized a 6-day Nasha Mukt Bharat Summit which ended with the e-launch of several initiatives undertaken by the Ministry for the prevention of Drug Abuse.