You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

जम्मू और कश्मीर में खेल के इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ावा देने हेतु विचार और सुझाव आमंत्रित

Start Date: 12-08-2022
End Date: 30-11-2022

भारत को खेल खेलने वाले देश के बजाय एक खेल-प्रेमी देश के रुप में बदलाव ...

विवरण देखें जानकारी छिपाएँ

भारत को खेल खेलने वाले देश के बजाय एक खेल-प्रेमी देश के रुप में बदलाव की कहावत को चरितार्थ करने के लिए, अपने खेल के इंफ्रास्ट्रक्चर को विकसित करने की दिशा में अभी भी एक लंबा रास्ता तय करना है। देश के प्रत्येक राज्य और जिले में व्यक्तिगत भागीदारी के आधार पर एक खेल रुपी बुनियादी ढ़ांचा बनाने की तत्काल आवश्यकता है।

ओलम्पिक, विश्व कप और अन्य प्रमुख टूर्नामेंटों में पदक जीतने के इतने वर्षों के बाद भी यह स्पष्ट है कि हमारी तैयारी में अभी भी कुछ कमी है। इस विषय को ध्यान से देखने से पता चलता है कि भारतीय खेल उचित कोचिंग की कमी के साथ-साथ खेल के बुनियादी ढांचे की कमी से भी वंचित हैं।

युवा भारत में जम्मू और कश्मीर की एक बड़ी आबादी का हिस्सा भारत की ताकत का प्रतिनिधित्व माना जाता है। आज के दौर में तेजी से बढ़ते भारतीय बाजार के बीच भारतीय खेल क्षेत्र में निवेश शुरू करने के लिए और अधिक युवा उद्यमियों को लुभाने के लिए जम्मू और कश्मीर सरकार के प्रयासों की सख्त जरूरत है। यंग तुर्क के माध्यम से सरकार कुछ प्रकार के गैर-पारंपरिक व्यवसायों के लिए नए दरवाजे खोल रही है और उन्हें भारत की जीडीपी में योगदान करने में सक्षम बना रही है।

जम्मू-कश्मीर के खेल क्षेत्र और इसके बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए, सरकार नागरिकों से निम्नलिखित विषयों पर विचार और सुझाव साझा करने के लिए आमंत्रित करती है:-
• खेल क्षेत्र को एक उद्योग के रूप में प्रोत्साहन
• खेल क्षेत्र शिक्षा कार्यक्रम को बढ़ावा
• खेल आधारित फर्मों को मौद्रिक सहायता
• खेल क्षेत्र में अनुसंधान एवं विकास को बढ़ावा

जमा करने की अंतिम तिथि 30 नवंबर 2022 है।

सभी टिप्पणियां देखें
Reset
215 परिणाम मिला

Anees ul Islam 1 year 7 महीने पहले

I Anees ul Islam from Jammu and Kashmir district kulgam i wanna we should have to promote sports as well in Jammu and Kashmir because it plays an important role in the youth of Kashmir and Kashmir will become a free from drugs and the people of Kashmir will become health and well mindend person so It is my idea to promote sports in Jammu and Kashmir

ARUN KUMAR TIWARI 1 year 7 महीने पहले

आज से कुछ साल पहले राज्य की जो हालत थी वो किसी से छिपी नही थी। पर वर्तमान केंद्र सरकार के नवीन नीतियों से जो परिवर्तन हुआ है उससे युवाओं को बड़ा ही फायदा हो रहा है। वर्तमान स्थिति तो यह है की कुछ ही दिनों बाद राज्य खेल इकाई का गठन होकर क्रिकेट जैसे खेलो की ओर युवा वर्ग जुड़ रहा है।

Ishtiayaq Ahmad Katoch 1 year 8 महीने पहले

As i see to happy that this type of patorm is avaiableto share and made the demands as our district ihas abailtiy to provide and to develop the sports facilities in so many sports field we have very much iintrest and qualities here and efforts to made the development in various sports field we need facilities in sports like in cricket,volleyball,skiing,table tennis, badminton,trackings,football,and many local sports games which are so intrested and need to infrastructure thanks regards

BrahmDevYadav 1 year 8 महीने पहले

स्पोर्ट्स करना क्यों जरूरी है?
यह दिखाया गया है कि शारीरिक गतिविधि मस्तिष्क में रसायनों को उत्तेजित करती है जो आपको बेहतर महसूस कराते हैं। इसलिए नियमित रूप से खेल खेलने से बच्चों की समग्र भावनात्मक भलाई में सुधार होता है । शोध से पता चलता है कि बच्चों में खेल खेलने और आत्म-सम्मान के बीच एक संबंध है।

BrahmDevYadav 1 year 8 महीने पहले

देश में खेल खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए क्या करना चाहिए?
खेलो इंडिया योजना के तहत, 'प्रतिभा खोज और विकास' घटक के तहत देश में 1374 महिला एथलीटों को प्रशिक्षित किया जा रहा है और हर एथलीट को हर साल 6,28,400 रुपये आउट ऑफ पॉकेट अलाउंस के तौर पर 1,20,000 रुपये सहित की दर से अधिकतम वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है।

BrahmDevYadav 1 year 8 महीने पहले

खेल का उद्देश्य क्या है?
खेल और खेलों का महत्व:– खेल का मुख्य उद्देश्य, शारीरिक व्यायाम है। यह एक प्रसिद्ध उद्धरण है, “एक ध्वनि शरीर में एक ध्वनि दिमाग होता है”। जीवन में सफलता के लिए शरीर का स्वास्थ्य आवश्यक है। अस्वस्थ व्यक्ति हमेशा कमजोरी महसूस करता है, इस प्रकार आत्मविश्वास खो देता है और इसलिए बहुत सुस्त और सक्रिय हो जाता है।